Crime State

फेसबुक पर दोस्ती कर महिला से किया दुष्कर्म, 20 लाख रुपये भी ठगे

फेसबुक पर दोस्ती कर एक महिला से दुष्कर्म करने और उससे 20 लाख रुपये ठगने का मामला सामने आया है। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है।

रांची, जेएनएन। चुटिया थाने में बिहार के सासाराम जिले के शिवसागर थाना क्षेत्र निवासी एक महिला ने गुरुवार को भोपाल के तीन लोगों के खिलाफ सनसनीखेज आरोप लगाया है। उसने बताया है कि भोपाल जहांगीराबाद में प्लाटून कमांडर के पद पर कार्यरत प्रशांत सिंह चौहान नामक शख्स ने फेसबुक पर उससे दोस्ती की, लाचारी का बहाना बनाकर 20 लाख रुपये ठगे, दुष्कर्म भी किया।

इसमे उसके दोस्त देवेश मालवीय (भोपाल, सिपाही के पद पर कार्यरत), भाई निशांत सिंह चौहान व निशांत के दोस्त राजदीप शर्मा ने सहयोग किया। रुपये इन्हीं के खाते मे मंगवाए थे। अब ब्लैकमेलिंग कर और रुपयों की मांग करता है और नही देने पर मारपीट करता है।

जून 2015 मे फेसबुक पर दोस्त बना था प्रशांत

पीड़िता के अनुसार, जून 2015 मे फेसबुक पर उसकी दोस्ती प्रशांत सिंह चौहान से हुई थी। पीड़िता के अनुसार उस वक्त पति से उसकी अनबन चल रही थी। इससे उसका झुकाव प्रशांत की ओर हो गया था। इसके बाद वाट्सएप नंबर का आदान-प्रदान हुआ था। इसी बीच प्रशांत ने लाचारी की बात बताकर मदद मांगी और 15 लाख रुपये कुछ दोस्त के, कुछ भाई के और कुछ भाई के दोस्त के खाते मे मंगवाए। जून 2015 से अक्टूबर 2016 तक कुल राशि मंगवा ली। 30 नवंबर 2016 को पीडि़ता भोपाल गई, तो उससे शादी का झांसा देकर सोने के करीब पांच लाख के जेवरात व 36 हजार रुपये नकदी ले ली।

31 दिसंबर 2015 से 02 जनवरी 2016 तक उसने पीडि़ता के साथ रांची के चुटिया थाना क्षेत्र के एक होटल मे तीन दिनों तक संबंध भी बनाया। इसके बाद से ही उसे ब्लैकमेल कर रुपये ऐंठता रहा था। अक्टूबर 2016 में उसने 20 लाख रुपये के साथ सासाराम बुलाया था, जहां पीड़िता केवल 50 हजार रुपये लेकर पहुंची थी। इस पर आरोपी ने उसके साथ मारपीट की थी। उसने धमकी दी थी कि भोपाल मे केस करवाने पर वह जान मार देगा, इसलिए पीडि़ता ने चुटिया थाने मे प्राथमिकी दर्ज कराई।

यह भी पढ़ेंः गोहत्या पर पाबंदी के पक्ष में उतरे मुस्लिम

झारखंड की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

– See more at: http://www.jagran.com/jharkhand/ranchi-rape-with-woman-15853561.html?src=TP-JH-PAGE#sthash.sNjoNsGQ.dpuf

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *